Sunday, November 6, 2011

देव प्रबोधनी एकादशी अर्थात् देव उत्थान एकादशी अर्थात देव उठनी एकादशी

कार्तिक मान के शुक्ल पक्ष एकादशी के दिन, जिसे कि देव प्रबोधनी एकादशी, देव उत्थान एकादशी तथा देव उठनी एकादशी के नाम से भी जाना जाता है, क्षीरसागर में शेषशय्या पर शयन करते हुए भगवान विष्णु के योगनिद्रा से जागृत होने का दिन है। इसी दिन से शादी-विवाह आदि जैसे समस्त मांगलिक कार्यों का, जो कि देव के शयन काल के दौरान नहीं मनाए जा सकते, पुनः आरम्भ हो जाता है। पद्मपुराण के अनुसार इस दिन भगवान शालिग्राम तथा माता तुलसी का विवाह हुआ था।

(चित्र iskconsurat.com से साभार)

आप सभी को देव प्रबोधनी एकादशी की शुभकामनाएँ!

भगवान शालिग्राम और माता तुलसी आपकी मनोकामनाएँ पूर्ण करें!
Post a Comment