Sunday, March 29, 2009

अब आपके ब्लोग को मिलेगा एडसेंस के इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापन

गूगल ने हिन्दू नववर्ष के शुभ दिन हिन्दी ब्लोगर्स को उपहार के रूप में दिया है एडसेंस के इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापन (Interest Based Ads)। कल पाबला जी के पोस्ट "आ गया, आ गया, आ गया! गूगल एडसेंस आ गया!!" को पढ़कर बड़ी खुशी हुई।

गुमान तो मुझे 13 मार्च 2009 को ही हो गया था कि गूगल वाले जल्दी ही हिन्दी पर मेहरबान होने वाले हैं क्योंकि उस दिन मुझे गूगल से मेल आया था कि वे इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापन लांच करने जा रहे हैं। पर इस विषय पर मैंने कोई पोस्ट यह सोचकर नहीं लिखा था कि इस विषय में समुचित जानकारी प्राप्त कर लेने के बाद ही लिखेंगे।

हाँ तो अब आपको अपने ब्लोग के लिये धनोपार्जन (monetize) का आप्शन तो मिल गया है और अब तक शायद आपने उसे एक्टिव्हेट भी कर लिया होगा। पर विज्ञापन आपको कुछ दिनों के बाद ही मिलने शुरू होंगे। क्योंकि गूगल के मेल में मुझे अपने हिन्दी वेबसाइट के प्रायवेट पालिसी को इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापनों को ध्यान में रख कर बदलने के लिये 8 अप्रैल 2009 तक का समय दिया गया था इसलिये मेरा अनुमान है कि शायद अप्रैल 2009 के दूसरे पखवाड़े से या फिर मई 2009 से ही विज्ञापन मिलने शुरू होंगे। तब तक आपके ब्लोग में सार्वजनिक सेवा विज्ञापन ही आते रहेंगे।

एडसेंस के कांटेस्चुअल विज्ञापन आपके पोस्ट की सामग्री के आधार पर विज्ञापन प्रदर्शित करता है किन्तु हिन्दी के अब तक सपोर्टिंग लेंग्वेज न होने के कारण आपके पोस्ट की सामग्री को गूगल बोट समझ नहीं पाता और इसीलिये हमारे ब्लोग्स को एडसेंस विज्ञापन नहीं मिल पा रहे थे। नये इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापनों को हमारे पोस्ट की सामग्री से कुछ भी लेना देना नहीं है बल्कि यह आपके पाठकों की रुचि पर आधारित है, अतः ये विज्ञापन हमारे ब्लोग्स को मिलने शुरू हो जायेंगे।

इंटरेस्ट बेस्ड विज्ञापनों के विषय में अधिक जानकारी के लिये देखें - Driving monetization with ads that reach the right औडिएंस

हिन्दी ब्लोग्स से कमाई की अगली कड़ी - स्व प्रेरणा
Post a Comment