Thursday, March 4, 2010

एक छोटी सी खुशी में आपको शामिल करना चाहता हूँ

कहते है कि "दुःख बाँटने से आधा हो जाता है और खुशी बाँटने से चौगुनी हो जाती है"। इसलिये मैं भी आप लोगों के साथ अपनी एक खुशी बाँटना चाहता हूँ। गूगल के "है बातों में दम प्रतियोगिता" टीम से मेरे पास अभी अभी एक मेल आया है जिसमें लिखा हैः

Dear Hai Baaton Mein Dum Contestant,

Thank you for participating in the Hai Baaton Mein Dum Contest.

Congratulations on the superb quality of your submission and the
excitement that you brought to the contest. From a pool of more than
3000 entries, your entry made it into the final list of winners of the Hai
Baaton Mein Dum Contest!

पढ़कर आपको मेरी खुशी का अन्दाजा तो लग ही गया होगा।

मेरे हिन्दी नोल्स यदि आप पढ़ना चाहें तो यहाँ क्लिक करें

23 comments:

यशवन्त मेहता "फ़कीरा" said...

bahut bahut mubarak ho.....party banti hei

महेन्द्र मिश्र said...

बधाई हो दादा ...

'अदा' said...

Ye to hamare paas bhi aaya hai..aur ham samajh nehi paaye ki kaun si entry ki baat ho rahi hai Bhaiyaa...
fax kane ko bhi likha hai...
aap bataiyega...ki kya hai ye...??

M VERMA said...

बधाई हो
अदा जी को भी बधाई

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

वाह्! बहुत बढिया खबर सुनाई आपने....
हमारी ओर से भी बधाई स्वीकार करें!!!!

dhiru singh {धीरू सिंह} said...

बधाई बधाई

ललित शर्मा said...

बधाई हो अवधिया जी
अब पार्टी पक्की।

यह मेल हमारे पास भी आई है।
आपकी बात मान ली तो फ़ायदे मे रहे।

कल मिलते हैं।
राम-राम

डॉ टी एस दराल said...

बहुत खूब अवधिया जी । मुबारक हो।

Anonymous said...

अवधिया जी को बधाई

ललित जी तो कल मिल रहे हैं,
मैं भी आपसे रविवार को मिलता हूँ, ऐसे कैसे छोड़ दें भई? एक पार्टी का सवाल है :-)

बी एस पाबला

महफूज़ अली said...

हमारी ओर से भी बधाई स्वीकार करें!!!!

Arvind Mishra said...

शुभकामनाएं तनिक हिचक से -आगे आगे देखिये अभी होता है क्या ?

विनोद कुमार पांडेय said...

बहुत बहुत बधाई ..यह तो हम सभी के लिए खुशी की बात है....

अविनाश वाचस्पति said...

खुशी तो मुझे भी खूब है
मिट गई सारी ही ऊब है
पाबला जी जब साथ हैं
तो डरने की नहीं बात है
कोई घपला होगा तो भी
लेंगे वे तुरंत ही जांच
सच्‍चाई को नहीं आती
कभी भी झूठ की आंच
पर आजकल नेट पर
लुटेरे सदा सक्रिय हैं
इसलिए विजेताओं को
सक्रिय रहना चाहिए सदा।

सतर्कता है सदा भली
हम तो चले अपनी गली।

vikas said...

bahut bahut badhyi ho. achha lga dekh kar.

VIKAS PANDEY

http://vicharokadarpan.blogspot.com/

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

बहुत बहुत बधाइयाँ!

डॉ महेश सिन्हा said...

बधाई हो बधाई

RaniVishal said...

बहुत बहुत बधाइयाँ!

Gagan Sharma, Kuchh Alag sa said...

अरे वाह!!!!
हार्दिक बधाई।

पी.सी.गोदियाल said...

आपको बधाई ,

ये बाद में बात करेंगे कि आपको क्या मिला और मुझे क्या !

Anil Pusadkar said...

बधाई हो आपको और ललित,अदा जी और तमाम उन लोगों को जिन्हे ये मेल मिला है।

संजय बेंगाणी said...

घणी घणी बधाई हो जी.

आपने पार्टी का निमंत्रण नहीं भेजा अभी तक? :) :) :)

रंजना [रंजू भाटिया] said...

bahut bahut badhaai ji

खुशदीप सहगल said...

बधाईयां जी बधाईयां...

वैसे पार्टी का एक रास्ता है...अवधिया जी की पार्टी अदा जी को, अदा जी की पार्टी ललित जी को, ललित जी की पार्टी अवधिया जी को...इसलिए ट्राएंगल की तरह हर एंगल ने दूसरे एंगल को पार्टी न देकर भी पार्टी दे दी...यानि हिसाब बराबर...
इसलिए बाकी सारा ब्लॉगवुड बजाओ ताली...

जय हिंद...