Saturday, April 3, 2010

काम की लगे तो इस पोस्ट को पढ़ें ... अन्यथा बीच में ही छोड़ दें

कौन सी पोस्ट काम की है और कौन सी नहीं यह तो पाठक ही तय कर सकता है। कोई पोस्ट किसी के काम की होती है तो वही पोस्ट किसी अन्य के काम की नहीं होती। सुभाषित अर्थात् सद्‍वचन भी आजकल बहुत से लोगों को काम के नहीं लगते। इस पोस्ट में मैं कुछ अंग्रेजी के कुछ सुभाषितों को उनके हिन्दी अर्थ के साथ प्रस्तुत कर रहा हूँ इसलिये शायद कुछ लोगों को काम की लगे और कुछ को नहीं। इसीलिये पहले ही अनुरोध कर दिया कि यदि काम की लगे तो इस पोस्ट को पढ़ें, अन्यथा बीच में ही छोड़ दें।


Ability may get you to the top, but it takes character to keep you there.

योग्यता आपको सफलता की ऊँचाई तक पहुचा सकती है किन्तु चरित्र आपको उस ऊँचाई पर बनाये रखती है।


The foundation stones for a balanced success are honesty, character, integrity, faith, love and loyalty.

संतुलित सफलता के लिये ईमानदारी, चरित्र, अखंडता, विश्वास, प्रेम और निष्ठा नींव के पत्थर हैं।


Character is higher than intellect.

बुद्धि से चरित्र का स्थान ऊँचा है।


Weakness of attitude becomes weakness of character.

प्रवृति की दुर्बलता चरित्र की दुर्बलता बन जाती है।


If you want to judge a man's character, give him power.

किसी के चरित्र को परखना हो तो उसे अधिकार देकर देखो।
Post a Comment