Tuesday, February 16, 2010

आज नहीं दे पायेंगे आपका साथ ... परघानी है हमें प्यारी भांजी की बारात

आज हम न आपके पोस्ट पढ़ पायेंगे और न ही टिप्पणी कर पायेंगे। लाडली भांजी के विवाहोत्सव की व्यस्तता हमें इजाजत ही नहीं देगी इन सब के लिये। सोचा था कि आज कम्प्यूटर खोलेंगे ही नहीं पर याद आया कि आप लोगों को तो अब तक निमन्त्रण भेजा ही नहीं है हमने। इसलिये इस पोस्ट के माध्यम से आप लोगों को निमन्त्रण दे ही देते हैं। दुल्हा-दुल्हन को आप लोगों का आशीर्वाद से अभिभूत करने के लिये!

9 comments:

निर्मला कपिला said...

धन्यवाद अवधिया जी आपकी भानजी को बहुत बहुत आशीर्वाद और परिवार को शुभकामनायें

संगीता पुरी said...

आप सबों को बधाई एवं शुभकामनाएं .. दुल्‍हन सौ0 कांता और दूल्‍हे चि0 राजेश को बहुत बहुत आशीर्वाद !!

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

विवाह सकुशल संपन्न हो। वर-वधु को आशीर्वाद कहें।

'अदा' said...

वाह भईया ,
मन बहुत खुश हुआ है देखकर...
आप शादी के समारोह में ख़ूब एन्जॉय कीजिये .और हमलोग ख्यालों में ही बहुत खुश हैं...विवाह सकुशल संपन्न हो...
वर-वधु दोनों को बहुत सारे स्नेह और आशीष...

--
स्वप्न मंजूषा 'अदा'

अन्तर सोहिल said...

वर-वधु को आशिर्वाद और शुभकामनायें हमारी तरफ से भी
आप सबको भी ढेर सारी बधाईयां


प्रणाम

Sanjeet Tripathi said...

badhai aur shubhkamnayein

डॉ टी एस दराल said...

बिटिया को आशीर्वाद और शुभकामनायें।
सुख संपत्ति से परिपूर्ण विवाहित जीवन की मंगल कामना करते हैं।

सूर्यकान्त गुप्ता said...

हमारी ओर से वर वधु को चिरसुखी वैवाहिक जीवन की हार्दिक शुभकामनाएं

राज भाटिय़ा said...

हमारी तरफ़ से बिटिया को आशीर्वाद और शुभकामनायें। आने वाले जीवन मे दोनो वर ओर बधू सुखी रहे, ओर आपको ओर बिटिया के मां बाप को बधाई